C Programs

C++ क्या है ?

C++ क्या है ? 

C++ एक efficient पावरफुल language है जिसका उपयोग एक 3d ग्राफ़िक्स बनाने के लिए किया जाता है, C++ एक तरह से C language की तरह ही मिदले language है, जिसका उपयोग हम low और high दोनों प्रकार के प्रोग्राम बनाने के लिए कर सकते है !

C लैंग्वेज C++ की मुकाबले काफी छोटा है ! C language के मुकाबले C++ language में काफी ज्यादा फीचर्स है जो इस C++ language को काफी ज्यादा सुविधा जनक बनता है !

C++ का इतिहास ?

c++ language का आविष्कार C language की जरुरतो को देखकर ही किया गया था ! जैसा की आपको पता ही है की C language के मुकाबले में C++ language में काफी ज्यादा फीचर्स है जो इसके काम को और आसन बना सकता (देता) है !

c++ language की शुरुआत 1978 में Bjarne Stroustrup ने की थी ! इसका पहला version 1979 में रिलीज़ हुआ था ! शुरआती दिनों में C language और Simula 67 ही बहुत लोकप्रिय थी !

उस वक़्त Bjarne Stroustrup जो इसके जनक है, वो एक ऐसी प्रोग्रमिक language बनाना चाहते थे, जो लोगो के काम को और ज्यादा आसान बना सके,इसीलिए इसके फाउंडर ने C language में Classes का concept जोड़ा तो इसे “C with classes” के नाम से जाना जाने लगा !

कुछ वक़्त बाद फिर से इसको modify किया गया जिसके चलते इसमें कुछ और नये concept add कर दिए गये ! उसके बाद इसका नाम c++ language पड़ गया ! जिसे हम C language का दूसरा version भी कह सकते है ! क्युकी इसका काम C language के मुकाबले और सरल और आसान बनाना था !

 

C++ की विशेषताए ?

  • Simple Language.
  • Independent and Portable Language.
  • Compiler Based Language.
  • Case Sanstive Language.

 

C++ language के उपयोग ?

  1. कंप्यूटर सॉफ्टवेर बनाने के लिए C++ का उपयोग किया जाता है
  2. बहुत सारे hardware के लिए भी C++ language का उपयोग किया जाता है !
  3. गेम्स के लिए भी इसका उपयोग किया जाता है !
  4. C language और c++ language का उपयोग  बड़े बड़े ओप्रतिंग system बनाने के लिए भी किया जाता है जैसे – Linux, Windows.

C language और C++ language में अंतर ?

  • C Language का कोई भी vertual function नही है, जबकि C++ में होता है !
  • C Language एक मिडिल लेवल Language है, जबकि c++ एक High Lavel Language है !
  • C Language के सिर्फ built-in Data ही टाइप होता है, जबकि C++ Language में user define और built in दोनों प्रकार के data टाइप होते है !
  • C++ Language में name space पाया जाता है , जबकि C Language में नही !
  • C Language में ओवरलोडिंग नही है, जबकि C++ में ओवरलोडिंग की सुविधा उपलब्द है !
  • C language reference variable को support नही करती है, जबकि c++ language reference variable को सपोर्ट करती है !
  • C language में इनपुट और आउटपुट कमांड देने के लिए स्कान्फ़ ( ) और printf ( ) का उपयोग किया जाता है जबकि c++ में इनपुट और आउटपुट देने के लिए Cin और Cout फंक्शन का उपयोग किया जाता है !
  • C language में exception headling सुविधा उपलब्द नही है जबकि C++ उपलब्द है !

 

C++ language सिखने के फायदे ?

आज के समय जिसने कोडिंग सिख ली, उसके लिए काम की की कमी नही इस दुनिया में ! ये तो आप सभी को पता है की आज के ज़माने में कंप्यूटर और tecnology कितनी तेज़ी से बढ़ रही है ! जिस कारन आज के इस दौर में गेमिंग का भी चलन काफी हद तक बढ़ गया है !

भास्कर और BBC न्यूज़ के अनुसार  42% लोग सिर्फ pubg ही खेलते है ! इसका मतलब अपने भारत की आधी पापुलेशन अपना समय गेम खेलने में ही बिता रही है ! अब आप सोचोगे की में इसमें C++ language को छोड़ कर गेम के बारे में क्यों बता रहा हु !

में ये आपको इसलिए बता रहा हु ताकि आपको ये पता लग जाये की tecnology और गेम्स का कितना स्कोप बढ़ गया है ! क्या आपको पता है मोबाइल व् कंप्यूटर के लिए जितने भी गेम्स बनते है वो सभी c और c++ language पर ही बनते है ! जो users को एक अच्छे ग्राफ़िक्स के साथ साथ अच्छा एक्सपीरियंस भी देते है !

c और C++ language हर उस चीज़ में जान देती है जिस भी appliction व् वेब में इसका प्रयोग होता है ! अगर हम आसन शब्दों में कहे तो कंप्यूटर में सभी छोटे से लेकर बड़े प्रोग्राम जैसे calculater, files आदि को रन करने के लिए जिस language का उपयोग किया जाता है ! उसे हम कोडिंग कहते है !

आज के समय Developers तरह तरह प्रोग्राम बनाने के लिए तरह तरह की language का उपयोग करते है जैसे – java, html, c, c++, ruby and python..

 

C++ language क्यों जरुरी है ?

c++ language को सिखा इसलिए जरुरी है क्युकी ये प्रोग्रामर के काम को काफी आसान बना देती है अगर हम दूसरी  प्रोग्रामिंग language के बात करे तो इनको हम सिर्फ कमांड्स के जरिये ही इस्तेमाल कर सकते है जबकि c++ language में प्रोग्रामर के लिए एक visual graphic इंटरफ़ेस मिलता है ! जिसका उपयोग काफी यूजर फ्रेंडली होता है !

c++ लैंग्वेज पर कोई भी एक नया प्रोग्रामर अपने लिए आसानी से प्रोग्राम कर सकता है ! पहले इसका उपयोग सिमित स्तर पर था, परन्तु आज कल इसका उपयोग हर एक कंप्यूटर एक्सपर्ट अपने काम को बेहतर बनाने के लिए करने लगा है !

यहाँ तक तो आज कल सभी ब्लॉगर भी इसका उपयोग बहुत तेज़ी से करने लगे है ! c++ language क्यों जरुरी है एक प्रोग्रामर व् ब्लॉगर के लिए ? इसको हम निचे Point से समझने वाले है !

  • इसका उपयोग जिस भी प्रोग्राम बनाने के लिए किया जाता है, उसको ये काफी attractive बना देता है !
  • ये प्रोग्रामर के काम को भी काफी आसान बना देता है !
  • जब भी आप वेब एनीमेशन के बारे में सोचोगे तो आपको c++ व् c language को यूज़ करना ही पड़ेगा, क्युकी इसकी वजह से ही आपके प्रोग्राम में ( चलन ) रन करते है !
  • अगर आप गेम्स बना रहे है तो ये आपके लिए महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती है !

 

मै आशा करता हु, की आप सभी को ये c++ language क्या है अच्छे से समझ में आया होगा ! अगर अभी भी आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमसे बेझिजक पूछ सकते है ! हमे आपके सवालो का जवाब देते हुए खुसी होती है !!

About the author

Smartblogskill

Leave a Comment